लव शायरी

कोई#सबूत नहीं है मेरे पास
तेरी मोहब्बत का……. !!
बस तेर नाम सुनते ही
# धड़कने बढ़ जाती हैं……..!!❤️😊❤️

 

मुझे पसंद है,
मेरा…. खालीपन….
जिसका कतरा-कतरा
तुझसे भरा है……

 

अकेले #मशहूर नहीं…होना हमें #जमाने में..

#गुनाह- ए- इश्क में…तुम्हें भी #शामिल करेंगे हम …

 

अब क़ागज कोरे ही छोडा क़रता हू,
लगता है बेवज़ह़ दर्द बयां क़रता हू
मासुमियत के पर्दे मे छुपे रह़ते है वो,
मै बेक़सी से मेरी बाते अयां क़रता हू !

 

💞 आरज़ू थी …तुम्हारी तलब बनने की,,,

मलाल ये …कि तुम्हारी लत लग गयी !! 💞

 

मेरे मासूम से ‘इश़्क’ की,

ख़ुशनुमा ‘पनाह’ हो तुम…♥️

 

मेरे जिस्म पर मेरी रूह का काबू हो तुम…!!

कुछ नहीं बस, चलती हुई नब्ज़ का जादू हो तुम…!!!!

 

तेरे ख़्यालों की रानाई
जब जब उतरती है मेरे ज़हन में
मुकम्मल मेरा श्रृंगार हो जाता है…. ❤

 

लिख देते हैं हम भी अफसाने कभी कभी।

तेरे ख्यालों से फुरसत मिल जाती है जब कभी।।

 

तुम्हारे हर सवाल का जवाब मेरी आँखों मे था ।।

और तुम मेरे जुबाँ खुलने का इंतजार करतें रहे …..।

 

शाम को तेरा हँस कर मिलना
दिन भर की उजरत होती है

 

लबों पे इक शरारती मुस्कान रखती हूँ…
मैं,आज भी थोड़ा सा बचपन साथ रखती हूँ।

 

थाम लेना हाथ मेरा अगर कभी जो पीछे छूट जाऊं
…………मना लेना मुझे जो कभी
………..तुमसे रुठ जाऊं

मैं पागल ही सही मगर मैं वो हूं जो
…………तेरी हर आरज़ू के लिए
…………टूट जाऊं

 

जिस्म तो बहुत संवार चुके..
रूह का सिंगार कीजिये..
फूल शाख से न तोड़िए..
खुशबुओं से प्यार कीजिये..

 

सफ़र-ए-ज़िन्दगी में इक तेरे साथ के ख़ातिर…!!

पल पल, पग पग, चल चल दीप जलाये मैंने…!!!!

 

तुम्हारे अलावा किसी को देखा ही नहीं ।।
मेरे दिल ने।।
क्योंकीं…..।।
मुझे लगा मेरे पास तुम हो ,।।
मुझे किसी और को देखने की जरूरत ही नहीं है…।।

 

#मोहब्बत के बारे में #तू कोई
#अंदाजा मत लगा
ये #दिल का #मामला है इसमें
#दिमाग मत #लगा😊😊

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.