शायरी hindi

एक उमर बीत चली है तुझे चाहते हुए,
तू आज भी बेखबर है कल की तरह..!

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.