अपने मूल रूप में जीवन अत्यंत हल्का है,

आकांक्षाओं- अभिलाषाओं का बोझ उसे भारी बना देता है…

 

सुप्रभात🌺🌺☕️☕️

Spread the love

By Sanyasi

Leave a Reply

Your email address will not be published.